ERROR: The form could not be loaded. Please, re-enable JavaScript in your browser to fully enjoy our services.

Suvichar SMS: Share on Facebook and Twitter | TiKAG

Suvichar

आज का सुविचार

आर्थिक स्थिति कितनी भी अच्छी हो जीवन का सही आनंद लेने के लिए मानसिक स्थिती अच्छी होनी चाहिए।
    घर में सोफासेट हो, डिनरसेट हो, टीवीसेट हो,  पर       
 "माइंडसेट" न हो तो आप कहीं भी सेट नही हो सकते
          सुप्रभात 
आपका दिन मंगलमय हो.        

किसी ने क्या खूब लिखा है

  तू कर ले हिसाब, अपने हिसाब से,

लेकिन ऊपर वाला लेगा हिसाब, अपने हिसाब से..
           जिंदगी मे हम कितने सही और कितने गलत है, ये सिर्फ दो ही शक्स जानते है..
"परमात्मा "और अपनी "अंतरआत्मा"

कर्म करो तो फल मिलता है,
       आज नहीं तो कल मिलता है।
जितना गहरा अधिक हो कुँआ,
        उतना मीठा जल मिलता है ।
जीवन के हर कठिन प्रश्न का,
        जीवन से ही हल मिलता है।

गुजरी हुई जिंदगी को
                     कभी याद ना कर
तकदीर में जो लिखा है
                      उसकी फरियाद ना कर जो होगा वो होकर रहेगा
   तु कल की फिकर में
                        अपनी आज की हंसी बर्बाद ना कर.
हंस मरते हुए भी गाता है और 
                    मोर नाचते हुए भी रोता है.
    ये जिंदगी का फंडा है
दुखो वाली रात नींद नहीं आती
            " और " खुशी वाली रात कौन सोता है

कभी कभी ठोकरें भी अच्छी होती हैं..!  क्योंकि
रास्ते की रुकावटों का पता चलता है..!   और
संभालने वाले हाथ किसके हैं..!
ये भी पता चलता है..!

हमारी सभी अंगुलियां लंबाई में बराबर नहीं होती हैं,
किन्तु जब वे मुड़ती हैं तो बराबर दिखती हैं..!!
इसी प्रकार यदि हम किन्हीं परिस्थितियों में थोड़ा सा झुक जातें है या तालमेल बिठा लेते हैं तो ज़िन्दगी बहुत आसान व् आनंदित हो जाती है।

जिंदगी जीना आसान नहीं होता
बिना संघर्ष कोई महान नहीं होता
  जब तक न पड़े हथोड़े की चोट
 पत्थर भी भगवान नहीं होता.
सुख दुःख तो अतिथि है, 
बारी बारी आयेंगे चले जायेंगे,
यदि वो नहीं आयेंगे तो,
 हम अनुभव कहाँ से लायेंगे.